Welcome !  Multi Useful Gyan Site पर आपका स्वागत है। आप यहां पर हिन्दू धर्म व अन्य धर्म विषयक और अनेक रोचक जानकारियां पायेंगे। अतः इस वेबसाइट को सब्सक्राइब (Subscribe) करें और Notification को ON/Allow भी करें !

Translator

Face Beauty Tips: चेहरे की सुन्दरता बढ़ाने के प्राकृतिक अचूक उपाय

                  Donate us

चेहरे की सुन्दरता बढ़ाने के कुछ विशेष उपाय:-

Dear reader ! मैं यहां आपको बताऊंगा कि कैसे आप प्राकृतिक विधियों से चेहरे की खूबसूरती को बढ़ा सकते हैं और अपने चेहरे को स्वस्थ और आकर्षक बना सकते हैं।

अनियमित आहार और अनियमित रहन-सहन की आदतों से मनुष्य को कुछ बीमारियां घेर लेती हैं, जैसे पेशीय वात, गठिया, मोतियाबिंद, प्रोस्टेट की सूजन, यकृत रोग, कब्ज और मोटापा; इन सब रोगों के साथ-साथ मानवीय चेहरा भी प्रभावित होता है और अपनी सुन्दरता खो देता है।

अन्य समस्याओं को तो पूछने से पता चलता है, लेकिन चेहरा तो सब देखते हैं और देखते ही अनेक लोग समझ जाते हैं कि हो न हो, यह व्यक्ति फिलहाल स्वस्थ नहीं है।

शायद आप जानते होंगे कि, चिकित्सा शास्त्र में चेहरे के रंग - रूप और हाव - भाव को देखकर अनेक रोगों का पता लगाया जाता है।

जहां युवावस्था में चेहरे की त्वचा साफ, गाल भरे हुए और सुंदर दिखने चाहिए; वहीं अगर आप अपने चेहरे की देखभाल नहीं करते हैं तो चेहरे पर झुर्रियां पड़ जाती हैं और चेहरा कालापन और मुंहासों से भरा होता है, जो दिखने में बहुत ही भद्दा लगता है।

Face Beauty Tips

चेहरे पर पाउडर, क्रीम लगाने के नुकसान:-

चेहरे पर third quality की क्रीम और पाउडर लगाने से सुंदरता नहीं आती। यह शरीर के अंग त्वचा की संरचना में अनियमित परिवर्तन करते हैं; साथ ही, वे निश्चित रूप से नुकसान पहुंचाते हैं। 

अधिकांश केमिकल युक्त पदार्थ लगाने से चेहरे की सुंदरता बिगड़ती ही जाती है, और न ही यह चेहरे की झुर्रियों को मिटा सकता है और न ही पिचके हुए गालों को भर सकता है, परन्तु हो सकता है शुरू में आपको इससे कुछ फायदा मिला हो।

पुराने समय से महिलाओं के मन में यह बात चली आ रही है कि क्रीम और पाउडर लगाने से चेहरे की सुंदरता बढ़ जाती है, इसीलिए महिलाएं इन पाउडर और क्रीम की सबसे बड़ी ग्राहक होती हैं।

कई महिलाओं का कहना है कि उन्होंने क्रीम और पाउडर और अन्य रासायनिक युक्त सौंदर्य प्रसाधनों का उपयोग करके अपने चेहरे की सुंदरता को बढ़ाया है; लेकिन यह उनका भ्रम है, जो क्रीम और पाउडर छोड़ने के बाद फिर से उसी तरह हो जाता है।

क्रीम और पाउडर लगाकर बहुत से मनुष्य (पुरुष या महिला) या कॉस्मेटिक सर्जरी करवाने से लोग अपने चेहरे की सुंदरता खो देते हैं, साथ ही त्वचा का कैंसर हो जाता है और असमय मौत भी हो जाती है।

यहां मैं एक्सरसाइज के जरिए चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने और उसे आकर्षक बनाने के कई तरीके बताऊंगा। चेहरे की स्थिर सुंदरता पाने का सबसे अच्छा तरीका क्या है; यही हम यहाँ वर्णन करने जा रहे हैं!


व्यायाम से बढ़ाएं चेहरे की सुंदरता:-

व्यायाम से शरीर में लचीलापन आता है, अंगों के गोलाकार होने से और मांसपेशियां जो गोलाई के कारण सुंदरता की परिचायक होती हैं, उनमें गोलाई भी आने लगती है और वह मजबूत हो जाती है। लेकिन अगर चेहरे, गाल और गले का व्यायाम नहीं किया जाता है और शरीर के अन्य हिस्सों का व्यायाम किया जाता है, तो शरीर के कई हिस्से सुडौल होने पर भी चेहरे पर बुढ़ापे के लक्षण बने रहेंगे, चेहरे पर झुर्रियां नजर आने लगेंगी।

जिस प्रकार शरीर के अन्य अंगों की मांसपेशियों का व्यायाम करना आवश्यक है, उसी प्रकार चेहरे की मांसपेशियों का व्यायाम करना भी आवश्यक है। यदि चेहरे की मांसपेशियों का व्यायाम नियमित रूप से किया जाए, तो जैसे शरीर कोमल रहता है, वैसे ही चेहरे पर यौवन भी आ जाता है, गालों और गले में झुर्रियां नहीं आती और गड्ढे भर जाते हैं। गड्ढों में धंसी हुई आंखें उभर आती हैं और सुंदर दिखती हैं, त्वचा सूखने और लटकने के बजाय साफ और मुलायम दिखती है।

चेहरे पर झुर्रियां क्यों पड़ जाती हैं, गर्दन के नीचे की त्वचा क्यों लटक जाती है, त्वचा ढीली क्यों हो जाती है? यह सब इसलिए होता है क्योंकि त्वचा की सिकुड़न क्षमता नष्ट हो जाती है और त्वचा लचीली नहीं रह जाती है। इसे सामूहिक रूप से दूर करने के लिए त्वचा के घर्षण और मालिश को सर्वोत्तम उपाय माना जाता है, यह भी कई वैज्ञानिकों की राय है जो व्यायाम के अंतर्गत आते हैं।

चेहरे की त्वचा और शरीर के हर अंग को यौवन प्रदान करने का काम घर्षण और मालिश से ही किया जा सकता है लेकिन इसके साथ पौष्टिक भोजन का सेवन जरूरी है।

घर्षण के कारण बाहरी त्वचा की हल्की रेखाएं मिट जाती हैं और मालिश से बाहरी त्वचा के नीचे की मांसपेशियों को ताकत मिलती है, जिससे चेहरे की झुर्रियां मिट जाती हैं और मांसपेशियां मजबूत हो जाती हैं और चेहरे की सुंदरता बढ़ जाती है।

चेहरे का घर्षण और मालिश कैसे करें:-

1. शरीर की त्वचा का घर्षण और मांसपेशियों की मालिश हाथ से ही करनी चाहिए।

2. घर्षण और रगड़ बहुत जोर से नहीं करना चाहिए, नहीं तो त्वचा छिल सकती है और जोरदार बल के कारण चेहरे पर नई रेखाएं भी दिखाई दे सकती हैं। लगातार मसाज करने से ये रेखाएं और झुर्रियां खत्म हो जाएंगी; फिर भी जल्दी करने की क्या जरूरत है? आराम से और आरामदेह प्रकृति में किया गया काम ठीक है।

3. घर्षण बिना तेल के करना चाहिए और मालिश के लिए घर्षण के बाद त्वचा पर थोड़ा सा बोरो-ग्लिसरीन या सरसों का तेल या जैतून का तेल लगाने से अच्छा लाभ मिलता है।

गाल की मांसपेशियों की मालिश -

गालों को पकड़े हुए आठ मांसपेशियां- चार दाईं ओर और चार बाईं ओर, आंखों के ऊपर से शुरू होकर, ये मांसपेशियां नीचे गालों की उभरी हुई हड्डी के साथ जुड़ी होती हैं और जबड़े से जुड़ती हैं। मालिश करने वाले गाल पर हथेली रखकर आंखों के किनारों से मालिश करें।

मालिश ऊपर से नीचे तक नहीं करनी चाहिए बल्कि गाल के निचले हिस्से से शुरू करके ऊपर की ओर, आंखों की ओर करनी चाहिए।

इस प्रक्रिया को शुरुआत में 10 बार करना अच्छा होता है, फिर धीरे-धीरे इस क्रम को बढ़ाया जा सकता है।

पहले एक गाल की मांसपेशियों की मालिश की जाती है, फिर दूसरे गाल की मांसपेशियों या दोनों गालों की मांसपेशियों की मालिश दोनों हाथों की हथेलियों से की जा सकती है। इन आठ मांसपेशियों की एक्सरसाइज करने से गालों की झुर्रियां दूर हो जाती हैं।

आंखों की मांसपेशियों के व्यायाम और मालिश -

ऊपर बताए गए गालों की 8 मांसपेशियां, आंखों के पास से गुजरती हैं और प्रत्येक आंख के चारों ओर एक मांसपेशी भी होती है जो इसे घेरे रहती है; इसके घर्षण और मालिश न करने से आंखों की पलकों पर झुर्रियां पड़ जाती हैं।

इनकी मालिश करने के लिए हथेलियों को आंख पर रखकर चारों ओर घुमाते हुए आंखों की मांसपेशियों के साथ-साथ आंखों की भी एक्सरसाइज की जाती है।

आंखें बंद करके हथेली को आंख पर रखें और धीरे-धीरे एक गोले में घुमाएं।

मुॅंह की मांसपेशियों के व्यायाम और मालिश -

अक्सर चेहरे की उचित देखभाल न करने और पोषण की कमी के कारण मुंह के दोनों कोनों से एक उभार लटकता हुआ दिखाई देता है। कभी-कभी ऐसा लगता है कि चेहरे के दोनों कोने सूज गए हैं।
दरअसल, मुंह के चारों ओर एक मांसपेशी होती है, जो व्यायाम न करने के कारण कमजोर हो जाती है। यह ढीलापन मुंह के दोनों कोनों पर उभर आता है।

मुंह की मांसपेशियों का व्यायाम करने के लिए दोनों हाथों की सबसे छोटी अंगुलियों को फैलाकर मुंह में लगाकर सिकोड़ना चाहिए। इस प्रकार इन अंगुलियों द्वारा मुख पेशी को फैलाकर और सिकोड़कर मुंह के आसपास की मांसपेशियों का व्यायाम किया जाता है और इस प्रकार यह मजबूत हो जाती है।

ठोड़ी और जबड़े की मांसपेशियों का व्यायाम-

ठोड़ी और जबड़े की मांसपेशियों के संबंध में, ठोड़ी के नीचे दाएं और बाएं तरफ की मांसपेशियों को भी मजबूत बनाने की आवश्यकता होती हैं। 

ठुड्डी के घर्षण से और दोनों जबड़ों के नीचे की मांसपेशियों को रगड़ने और मालिश करने से ठुड्डी ठीक रहती है और जबड़े की मांसपेशियों की मालिश से जबड़े गले के नीचे नहीं लटकते हैं।

कनपटियों की मांसपेशियों का व्यायाम और मालिश -

वृद्धावस्था में कनपटियों को थामने वाली मांसपेशियां व्यायाम के अभाव में ढीली और कमजोर हो जाती हैं और कनपटियों में गड्ढ़े बन जाते हैं। यदि कनपटियों की मांसपेशियों को नियमित रूप से रगड़ा जाए तो वे नहीं बैठेंगी। दोनों हाथों को कनपटियों के सिरों पर रखकर आंखों की ओर मालिश करने से वे भर जाते हैं, कनपटियों को थपथपाने से भी लाभ होता है।

इस तरह से चेहरे के व्यायाम जैसे घर्षण और मालिश सुबह उठते ही बिस्तर पर लेटकर बहुत आसानी से की जा सकती है। जिनके पास पर्याप्त समय है वे आसानी से एक घंटे के लिए इन गतिविधियों को कर सकते हैं, इससे समय भी कटेगा, और कोई भी व्यक्ति, लड़का, लड़की या महिला, अपनी पूर्ण युवावस्था को प्राप्त करेगा और उसका मन उत्साह और आनंद से भरा होगा।

चेहरे की सुंदरता बढ़ाने के कुछ घरेलू उपाय-

1. चेहरे की त्वचा रूखी हो या झुर्रियां हो तो आधा चम्मच नींबू का रस, आधा चम्मच सिरका, बादाम के तेल की कुछ बूंदे और थोड़ा सा गुलाब जल, सबको आपस में मिलाकर पूरे चेहरे पर मल लें, इसके 30 मिनट बाद गुनगुने पानी से धो लें। आपका चेहरा कुछ दिनों में ही चमकने लगेगा और कुछ दिनों तक इसका इस्तेमाल करने से चेहरे के ये सारे रोग दूर हो जाएंगे।

2. चाहे आप पुरुष हों या महिला; थोड़ा धीरज रखें।

प्रिय मित्रों! मैंने आपका अमूल्य समय लेकर बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है। मुझे यकीन है कि इस जानकारी को जानकर और इसका उपयोग करके आप अपने चेहरे की सुंदरता को बढ़ा सकते हैं और इसे आकर्षक बना सकते हैं, और खुद को स्वस्थ बना सकते हैं।

                  Donate us

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ